वह स्थान मंदिर है, जहाँ पुस्तकों के रूप में मूक, किन्तु ज्ञान की चेतनायुक्त देवता निवास करते हैं। - आचार्य श्रीराम शर्मा
कृपया दायीं तरफ दिए गए 'हमारे प्रशंसक' लिंक पर क्लिक करके 'अपनी हिंदी' के सदस्य बनें और हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार में अपना योगदान दें। सदस्यता निशुल्क है।
Flipkart.com

सोमवार, 25 जून 2012

राजा रवि वर्मा


(राजा रवि वर्मा) (राजा रवि वर्मा की कृति 'ग्वालन')

एक ऐसा चित्रकार जो अपनी कला के कारण राजा कहलाया
जिसके सम्मान में गर्वनर को भी खड़ा होना पड़ा
जिसने भारतीय चित्रकला का पुरे विश्व में डंका बजा दिया

राजा रवि वर्मा(१८४८-१९०६) भारत के विख्यात चित्रकार थे। उन्होंने भारतीय साहित्य और संस्कृति के पात्रों का चित्रण किया। उनके चित्रों की सबसे बड़ी विशेषता हिंदू महाकाव्यों और धर्मग्रंथों पर बनाए गए चित्र हैं। हिंदू मिथकों का बहुत ही प्रभावशाली इस्‍तेमाल उनके चित्रों में दिखता हैं।

उनके चित्रों की सबसे बड़ी विशेषता हिंदू महाकाव्यों और धर्मग्रंथों पर बनाए गए चित्र हैं। हिंदू मिथकों का बहुत ही प्रभावशाली इस्‍तेमाल उनके चित्रों में दिखता हैं।

राजा रवि वर्मा का जन्म २९ अप्रैल १८४८ को केरल के एक छोटे से गांव किलिमन्नूर में हुआ। पांच वर्ष की छोटी सी आयु में ही उन्होंने अपने घर की दीवारों को दैनिक जीवन की घटनाओं से चित्रित करना प्रारंभ कर दिया था।

उनके चाचा कलाकार राजा राजा वर्मा ने उनकी प्रतिभा को पहचाना और कला की प्रारंभिक शिक्षा दी। चौदह वर्ष की आयु में वे उन्हें थिरुवनंतपुरम ले गये जहाँ राजमहल में उनकी तैल चित्रण की शिक्षा हुई। बाद में चित्रकला के विभिन्न आयामों में दक्षता के लिये उन्होंने मैसूर, बड़ौदा और देश के अन्य भागों की यात्रा की।
राजा रवि वर्मा की सफलता का श्रेय उनकी सुव्यवस्थित कला शिक्षा को जाता है। उन्होंने पहले पारंपरिक तंजावुर कला में महारत प्राप्त की और फिर यूरोपीय कला का अध्ययन किया। डाक्टर आनंद कुमारस्वामी ने उनके चित्रों का मूल्यांकन कर कलाजगत्‌ में उन्हें सुप्रतिष्ठित किया। ५७ वर्ष की उम्र में १९०५ में उनका देहांत हुआ।



फाइल का आकार: 5 Mb

डाउनलोड लिंक :
(निम्न में से कोई भी एक क्लिक करें . अगर कोई लिंक काम नहीं कर रहा है तो अन्य लिंक प्रयोग करके देखेंडाउनलोड करने में कोई परेशानी हो या डाउनलोड करना नहीं आता तो कृपया यहाँ क्लिक करें)


SendMyWay:
Click here

DepositFiles:
Click Here


2Shared:
Click Here

PutLocker:
Click Here

Ziddu:
Click Here


Multi-Mirror Download Link:
Click Here


(डाउनलोड करने में कोई परेशानी हो तो कृपया यहाँ क्लिक करें)
ये पुस्तक आपको कैसी लगी? कृपया अपनी टिप्पणियां अवश्य दें।


अगर आपको ये पुस्तक पसंद आई हो तो इसे नीचे दिए गए लिंक से फेसबुक  पर लाइक  करें!


[ Keywords: Free hindi books, Free hindi ebooks, Free hindi stories, Hindi stories pdf, Hindi PDF Books, Hindi sahitya , Hindi kahani, Hindi e books, Hindi e book, free hindi novels, Hindi Text Book, Premchand ghar mein free hindi book download]




8 टिप्पणियां:

Anup Tripathi on 22/8/10 9:43 pm ने कहा…

This book is not available for download now. Please rectify the error. Many books in the list are not available for downlaod, an error occurs- This file is not available for download now."

Anil Kumar ने कहा…

You can use other sites to download. Use any 1 from 5.

Subhash on 7/1/11 3:16 am ने कहा…

Apni Hindi portal kisi khajane se kam nahi hay

Subhash on 7/1/11 3:31 am ने कहा…

राजा रवि वर्मा की जीवनी पढने योग्य हे, और बहुत अच्छी भी लगी

Subhash on 7/1/11 3:34 am ने कहा…

राजा रवि वर्मा की जीवनी पढने योग्य हे, और बहुत अच्छी भी लगी यदि तस्वीरें रंगीन होती तो किताब मजेदार होती

Prashil Pazare on 4/10/11 2:45 pm ने कहा…

Is kitab ki sari link maine dekhi, par kisi bhi link par yah kitan uplabd nahi hai.

Admin on 4/10/11 11:15 pm ने कहा…

वैसे तो कई लिंक काम कर रहे थे, फिर भी सारे लिंक दुबारा उपलब्ध करवा दिए गए है.

-Admin

बेनामी ने कहा…

hariwansh ray ji ki kitab ""kya bhulu kya yad karoo"" ka link nahi mil rha he please us book na new link dijiye
thnk u

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिप्पणियां हमारी अमूल्य धरोहर है। कृपया अपनी टिप्पणियां देकर हमें कृतार्थ करें ।

Blogger Tips And Tricks|Latest Tips For Bloggers Free Backlinks

Deals of the Day

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में

 

ताजा पोस्ट:

लेबल

कहानी उपन्यास कविता धार्मिक इतिहास प्रेमचंद जीवनी विज्ञान सेहत हास्य-व्यंग्य शरत चन्द्र तिलिस्म बाल-साहित्य ज्योतिष मोपांसा देवकीनंदन खत्री पुराण बंकिम चन्द्र वीडियो हरिवंश राय बच्चन अनुवाद देशभक्ति प्रेरक यात्रा-वृतांत दिनकर यशपाल विवेकानंद ओ. हेनरी कहावतें धरमवीर भारती नन्दलाल भारती ओशो किशोरीलाल गोस्वामी कुमार विश्वास जयशंकर प्रसाद महादेवी वर्मा संस्मरण अमृता प्रीतम जवाहरलाल नेहरु पी.एन. ओक रहीम रांगेय राघव वृन्दावनलाल वर्मा हरिशंकर परसाई अज्ञेय इलाचंद्र जोशी कृशन चंदर गुरुदत्त चतुरसेन जैन भारतेन्दु हरिश्चन्द्र मन्नू भंडारी मोहन राकेश रबिन्द्रनाथ टैगोर राही मासूम रजा राहुल सांकृत्यायन शरद जोशी सुमित्रानंदन पन्त असग़र वजाहत उपेन्द्र नाथ अश्क कालिदास खलील जिब्रान चन्द्रधर शर्मा गुलेरी तसलीमा नसरीन फणीश्वर नाथ रेणु

ताजा टिप्पणियां:

अपनी हिंदी - Free Hindi Books | Novel | Hindi Kahani | PDF | Stories | Ebooks | Literature Copyright © 2009-10. A Premium Source for Free Hindi Books

;