वह स्थान मंदिर है, जहाँ पुस्तकों के रूप में मूक, किन्तु ज्ञान की चेतनायुक्त देवता निवास करते हैं। - आचार्य श्रीराम शर्मा
कृपया दायीं तरफ दिए गए 'हमारे प्रशंसक' लिंक पर क्लिक करके 'अपनी हिंदी' के सदस्य बनें और हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार में अपना योगदान दें। सदस्यता निशुल्क है।
Flipkart.com

सोमवार, 8 मार्च 2010

रेगिस्तान - विज्ञान साहित्य


किताबघर में आज पेश है - विज्ञान आधारित पुस्तक - रेगिस्तान ।

इस पुस्तक में रेगिस्तान के बारे में रोचक जानकारी सरल भाषा में दी गए है जैसे रेगिस्तान क्या है, ये कैसे बने , संसार के विभिन्न रेगिस्तान कौन से है इत्यादि ।

इधर प्राकृतिक आपदाओं की संख्या और तीव्रता में बढ़ोतरी हुई है। मौसमी परिवर्तन का एक और बड़ा संकेतक, जिस पर हम पर्याप्त ध्यान नहीं दे रहे हैं, बहुत तेजी से उभार पर है। वह है रेगिस्तानी इलाकों का विस्तार। दुनिया के लगभग सारे रेगिस्तानी क्षेत्र में विस्तार हो रहा है, लेकिन थार रेगिस्तान का विस्तार कुछ अधिक तेज गति से हो रहा है। इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन यानी इसरो की हालिया रिसर्च बताती है कि थार अब केवल राजस्थान की पहचान नहीं है। इसने हरियाणा, पंजाब, गुजरात और मध्यप्रदेश तक अपने पांव फैला लिये हैं।


यह पुस्तक हमें श्री राजेंद्र जांगिड ने भेजी हैइसके लिए उनका धन्यवाद

बहुत रोचक पुस्तक है।

अवश्य पढ़ें।

नोट: इस पुस्तक को नए सिरे से उपलब्ध करवा दिया गया हैअब इसे पढने में कोई मुश्किल नहीं आएगी


पृष्ठ संख्या - 150
आकार: 5 Mb




डाउनलोड लिंक(Megaupload) :
कृपया यहाँ क्लिक करें




डाउनलोड लिंक :(Multi Mirror)
कृपया यहाँ क्लिक करें




(डाउनलोड करने में कोई परेशानी हो तो कृपया यहाँ क्लिक करें)
ये पुस्तक आपको कैसी लगी? कृपया अपनी टिप्पणियां अवश्य दें।

9 टिप्पणियां:

Rajendra jangid on 8/3/10 1:41 pm ने कहा…

Dear kaviraaj Ji,

I Think I Send this book to you by Email ..?

Did I Send,,, ?

Please confirm the Above,

Regards,
Rajendra Jangid
Bangalore -560039.

Admin on 8/3/10 4:32 pm ने कहा…

जी हाँ, आप ही ने भेजी है। जल्दी-जल्दी में आपका नाम डालना भूल गया था। इसके लिए खेद है।

आपका धन्यवाद् ।

बेनामी ने कहा…

यह किताब खुल नही रही है Foxit reader से भी नहीं. कुछ और किताबों के साथ भी ऐसा हो रहा है.

Admin on 26/3/10 11:14 am ने कहा…

Fixing it.

बेनामी ने कहा…

BAHUT ACCHA PRAYAS

अमित जैन (जोक्पीडिया ) on 26/5/11 6:59 pm ने कहा…

बहुत बढिया परयासरत है आप

बेनामी ने कहा…

यह किताब खुल नहीं रही है|
You do not have access rights to this secure document दिखा रहा है |
क्या आप इसकी एक कॉपी मुझे मेल कर सकते हैं?
मेरा पता है:
jkm4688@gmail.com,
chandan_4688@yahoo.co.in

आपका बहुत बहुत धन्यवाद इस सुंदर वेबसाइट को चलने हेतु |

rishiraj sharma on 22/11/12 3:25 pm ने कहा…

Book is not downloding. Rishiraj sharma

abhi on 31/1/13 10:19 pm ने कहा…

Dear SIr Rajendra jangid ji,

can you please send me a copy of the book 'RAJESTHAN SAHITYA' in hihdi at my mail id
'math.abhi786@gmail.com'
i'l be thankful to u for this favor.

regards
abhishek

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिप्पणियां हमारी अमूल्य धरोहर है। कृपया अपनी टिप्पणियां देकर हमें कृतार्थ करें ।

Blogger Tips And Tricks|Latest Tips For Bloggers Free Backlinks

Deals of the Day

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में

 

ताजा पोस्ट:

लेबल

कहानी उपन्यास कविता धार्मिक इतिहास प्रेमचंद जीवनी विज्ञान सेहत हास्य-व्यंग्य शरत चन्द्र तिलिस्म बाल-साहित्य ज्योतिष मोपांसा देवकीनंदन खत्री पुराण बंकिम चन्द्र वीडियो हरिवंश राय बच्चन अनुवाद देशभक्ति प्रेरक यात्रा-वृतांत दिनकर यशपाल विवेकानंद ओ. हेनरी कहावतें धरमवीर भारती नन्दलाल भारती ओशो किशोरीलाल गोस्वामी कुमार विश्वास जयशंकर प्रसाद महादेवी वर्मा संस्मरण अमृता प्रीतम जवाहरलाल नेहरु पी.एन. ओक रहीम रांगेय राघव वृन्दावनलाल वर्मा हरिशंकर परसाई अज्ञेय इलाचंद्र जोशी कृशन चंदर गुरुदत्त चतुरसेन जैन भारतेन्दु हरिश्चन्द्र मन्नू भंडारी मोहन राकेश रबिन्द्रनाथ टैगोर राही मासूम रजा राहुल सांकृत्यायन शरद जोशी सुमित्रानंदन पन्त असग़र वजाहत उपेन्द्र नाथ अश्क कालिदास खलील जिब्रान चन्द्रधर शर्मा गुलेरी तसलीमा नसरीन फणीश्वर नाथ रेणु

ताजा टिप्पणियां:

अपनी हिंदी - Free Hindi Books | Novel | Hindi Kahani | PDF | Stories | Ebooks | Literature Copyright © 2009-10. A Premium Source for Free Hindi Books

;