वह स्थान मंदिर है, जहाँ पुस्तकों के रूप में मूक, किन्तु ज्ञान की चेतनायुक्त देवता निवास करते हैं। - आचार्य श्रीराम शर्मा
कृपया दायीं तरफ दिए गए 'हमारे प्रशंसक' लिंक पर क्लिक करके 'अपनी हिंदी' के सदस्य बनें और हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार में अपना योगदान दें। सदस्यता निशुल्क है।
Flipkart.com

रविवार, 5 अप्रैल 2009

कॉपीराइट

'अपनी हिंदी' में प्रकाशित सभी पुस्तकों का उद्देश्य मात्र मनोरंजन है और हिंदी भाषा का प्रचार-प्रसार करना है।
सभी पुस्तकें निस्वार्थ भाव से पाठकों के मनोरंजन के लिए प्रस्तुत की जाती है।

इस वेबसाइट पर उपलब्ध सभी पुस्तकों के लिंक इन्टरनेट से लिए गयें है . 'अपनी हिंदी' इन सभी लिंक का एक संकलन मात्र है .

हम अपने सर्वर पर कोई भी डाटा स्टोर नहीं करते है. बल्कि इन्टरनेट पर पहले से उपलब्ध लिंक ही अपने पाठकों को उपलब्ध करवाते है जो की ग़ैरक़ानूनी नहीं है.

अगर किसी भी व्यक्ति को इन पुस्तकों के इन्टरनेट पर उपलब्ध होने से परेशानी है तो उन वेबसाइट से सम्पर्क कर सकते है जहाँ से ये पुस्तकें डाउनलोड के लिए उपलब्ध है. या फिर आप गूगल पर कानूनी कार्यवाही कर सकते है क्योंकि गूगल भी इसी परकार से लिंक उपलब्ध करवाता है. मगर पहले अपने विधि विशेषज्ञ से अवश्य सलाह ले लें. .


हम किसी भी पुस्तक को अपने सर्वर पर स्टोर नहीं करते है और न ही इनका किसी प्रकार से व्यावसायिक उपयोग करते है।

अगर किसी भी पुस्तक का कॉपीराइट आपके नाम पर है और आप उसे यहाँ पर नहीं देखना चाहते है तो कृपया हमारे ई-मेल एड्रेस apnihindi (at) gmail (dot) com पर आवश्यक सबूतों के साथ हमसे संपर्क कर सकते है। कृपया ई-मेल के Subject में copyright अवश्य लिखें। आपकी शिकायत सही पाई जाने पर ३० कार्य-दिवसों के भीतर आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।

हमारा सभी पाठकों से अनुरोध है की अगर कोई भी पुस्तक आपको पसंद आती है तो इन पुस्तकों को खरीदकर पढ़े जिससे लेखकों और प्रकाशकों की कुछ सहायता हो सके.


धन्यवाद,

प्रबंधक ।

5 टिप्पणियां:

MAX on 5/4/10 6:12 pm ने कहा…

aap vigyan(science) ki aisi hi aur behatreen pustake www.apnihindi.com
me dale please
aur yeh site mujhe khub pasand aayi jitna ho sake to aap jeev-jantu,van,parvat adi vishyo ki kitabe bheje
thank you
shukriya
dhanyvad

vivektyagi on 9/4/10 9:29 am ने कहा…

सर, कृपया अष्टावक्र की गीता हिंदी में अपलोड करें

Unknown on 7/7/12 5:22 pm ने कहा…

वैसे ही आजकल कोई बुक खरीदता नहीं है उस पर तुम लोग ये कर रहे हो...पैसे किसी और चीज़ से कमाओ भाई

sandip padhya on 8/3/13 9:52 am ने कहा…

में एक कहानी लिखना चाहता हु पर मुझे ये पता नहीं की कहानी कि लिखने की शरूआत कहासे होती है और केसे आगे बढ़ाते है मुझे समजैये की कहानी केसे लिखते है.
मेरा ईमेल: sandip_padhya@yahoo.co.in

Bharat Gomase on 25/5/13 8:13 pm ने कहा…

How read this ebooks I cant open ebooks

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिप्पणियां हमारी अमूल्य धरोहर है। कृपया अपनी टिप्पणियां देकर हमें कृतार्थ करें ।

Blogger Tips And Tricks|Latest Tips For Bloggers Free Backlinks

Deals of the Day

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में

 

ताजा पोस्ट:

लेबल

कहानी उपन्यास कविता धार्मिक इतिहास प्रेमचंद जीवनी विज्ञान सेहत हास्य-व्यंग्य शरत चन्द्र तिलिस्म बाल-साहित्य ज्योतिष मोपांसा देवकीनंदन खत्री पुराण बंकिम चन्द्र वीडियो हरिवंश राय बच्चन अनुवाद देशभक्ति प्रेरक यात्रा-वृतांत दिनकर यशपाल विवेकानंद ओ. हेनरी कहावतें धरमवीर भारती नन्दलाल भारती ओशो किशोरीलाल गोस्वामी कुमार विश्वास जयशंकर प्रसाद महादेवी वर्मा संस्मरण अमृता प्रीतम जवाहरलाल नेहरु पी.एन. ओक रहीम रांगेय राघव वृन्दावनलाल वर्मा हरिशंकर परसाई अज्ञेय इलाचंद्र जोशी कृशन चंदर गुरुदत्त चतुरसेन जैन भारतेन्दु हरिश्चन्द्र मन्नू भंडारी मोहन राकेश रबिन्द्रनाथ टैगोर राही मासूम रजा राहुल सांकृत्यायन शरद जोशी सुमित्रानंदन पन्त असग़र वजाहत उपेन्द्र नाथ अश्क कालिदास खलील जिब्रान चन्द्रधर शर्मा गुलेरी तसलीमा नसरीन फणीश्वर नाथ रेणु

ताजा टिप्पणियां:

अपनी हिंदी - Free Hindi Books | Novel | Hindi Kahani | PDF | Stories | Ebooks | Literature Copyright © 2009-10. A Premium Source for Free Hindi Books

;