वह स्थान मंदिर है, जहाँ पुस्तकों के रूप में मूक, किन्तु ज्ञान की चेतनायुक्त देवता निवास करते हैं। - आचार्य श्रीराम शर्मा
कृपया दायीं तरफ दिए गए 'हमारे प्रशंसक' लिंक पर क्लिक करके 'अपनी हिंदी' के सदस्य बनें और हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार में अपना योगदान दें। सदस्यता निशुल्क है।
Flipkart.com

बुधवार, 30 मई 2012

चंद्रकांता - उपन्यास (देवकीनंदन खत्री)



चंद्रकांता उपन्यास (Chandrakanta Hindi Novel )

चंद्रकांता को एक प्रेम कथा कहा जा सकता है। इस शुद्ध लौकिक प्रेम कहानी को, दो दुश्मन राजघरानों, नवगढ और विजयगढ के बीच, प्रेम और घृणा का विरोधाभास आगे बढ़ाता है। विजयगढ की राजकुमारी चंद्रकांता और नवगढ के राजकुमार विरेन्द्र विक्रम को आपस मे प्रेम है। लेकिन राज परिवारों में दुश्मनी है।
 
यह शुद्ध लौकिक प्रेम-कहानी है, जिसमें तिलिस्मी और ऐयारी के अनेक चमत्कार पाठक को चमत्कृत करते हैं। नौगढ़ के राजा सुरेन्द्रसिंह के पुत्र वीरेन्द्रसिंह तथा विजयगढ़ के राजा जयसिंह की पुत्री चन्द्रकान्ता के प्रणय और परिणय की कथा उपन्यास की प्रमुख कथा है। इस प्रेम कथा के साथ-साथ ऐयार तेजसिंह तथा ऐयारा चपला की प्रेम- कहानी भी अनेकत्र झलकती है। विजयगढ़ के दीवान कुपथसिंह का पुत्र क्रूरसिंह इस उपन्यास का खलनायक है। वह राजकुमारी को हथियाने के लिए अनेक षड्यन्त्र रचता है।

चंद्रकांता उपन्यास को पढने के लिए हजारों लोगो ने उस समय हिन्दी सीखी थी। इस पर एक लोकप्रिय टीवी सीरियल भी बना था। 



डाउनलोड लिंक :

(निम्न में से कोई भी एक क्लिक करें . अगर कोई लिंक काम नहीं कर रहा है तो अन्य लिंक प्रयोग करके देखेंडाउनलोड करने में कोई परेशानी हो या डाउनलोड करना नहीं आता तो कृपया यहाँ क्लिक करें)


NetLoad:
Click here

DepositFiles:
Click Here


JumboFiles:
Click Here

Rapidshare:
Click Here

Ziddu:
Click Here



Multi-Mirror Download Link:
Click Here



(डाउनलोड करने में कोई परेशानी हो तो कृपया यहाँ क्लिक करें)
ये पुस्तक आपको कैसी लगी? कृपया अपनी टिप्पणियां अवश्य दें।


अगर आपको ये पुस्तक पसंद आई हो तो इसे नीचे दिए गए लिंक से फेसबुक  पर लाइक  करें!



देवकीनंदन खत्री का अन्य महान उपन्यास 'चंद्रकांता'  'अपनी हिंदी' पर उपलब्ध है. इसे डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें.
देवकीनंदन खत्री के अन्य सभी उपन्यास डाउनलोड करने के लिए
यहाँ क्लिक करें .





ये पुस्तक आपको कैसी लगी? कृपया अपनी टिप्पणियां अवश्य दें।

(Download Hindi Palmistry Book in PDF. Free Download)

[ Keywords: Free hindi books, Free hindi ebooks, Free hindi stories, Hindi stories pdf, Hindi PDF Books, Hindi sahitya , Hindi kahani,    Hindi e books, Hindi e book, free hindi novels, Hindi Text Book, Download O. Henery Stories in hindi for free Rapidshare, Hotfile, Megaupload, Filesonic Links for Hindi Downloads ]

61 टिप्पणियां:

abhimanyu singh on 22/4/09 9:37 am ने कहा…

Hey great work Dude, aap aab Bhootnaath aur dusre baki Novels bhee upload kar do ,aapka naam hindi seva ke liye amar rahega
please contact me on Abhimanyu.singhyadav@gmail.com

painter1 on 26/2/10 8:51 pm ने कहा…

please upload chandrakanta santiti.
You will be doing a great service.

pawan.neo on 11/4/10 1:12 am ने कहा…

please bhutnath upload kar do koi...
thanks in advance....
pawan kumar

prince kumar on 15/4/10 6:24 pm ने कहा…

bhootnath upload kar do yaar. Vo kahin nahi milta mujhe.

pankaj ने कहा…

Chandrakanta file ke password kya hai bhai!!!!!!!

बेनामी ने कहा…

pahli baar muze itni aachi hindi books site mili thanks ..........

MOHIT TYAGI on 5/8/10 9:08 am ने कहा…

ITS A GREAT JOB DONE , AS THIS IS NOT EASILY AVAILABLE EVEN ON LIBRARY & YOUR SITE PROVIDE THIS ON INTERNET , SIMPLY GREAT
NOW I AM READING THE BOOK & ENJOY IT
TO INCREASE THE READERSHIP OF "HINDI SAHITYA" YOUR EFFORTS ARE PRICELESS. KEEP GOING ON.

Admin on 12/9/10 12:38 pm ने कहा…

चंद्रकांता उपन्यास डाउनलोड करने लिए दूसरा लिंक भी उपलब्ध करवा दिया गया है.

बेनामी ने कहा…

kripya devkinandan khatri ki chandrakanta santati and bhootnath upload karen aapki ati kripa hogi dhanyavad.

Shahid on 18/4/11 5:26 pm ने कहा…

Zabardast novel hai. 1989 se dhoondh raha tha.

बेनामी ने कहा…

devkinandan khatri ka bhootnath upload karne ki kripa karen

Thanks

Shanti on 4/7/11 2:03 pm ने कहा…

Please upload Chandrakanta Santati and Bhootnath by devki nandan Khatri

subhash ने कहा…

devkinandan khatri ki chandrakanta upload karen ki kirpa kare aapki ati kripa hogi dhanyavad.

tameshwar verma ने कहा…

kripa mujh se chandrakanta download nahi ho raha hai pls help me

गजेन्द्र सिंह on 18/8/11 12:01 am ने कहा…

dhanyavad

गजेन्द्र सिंह on 18/8/11 12:02 am ने कहा…

बहुत बहुत धन्यवाद आपका इस उपन्यास के लिए

बेनामी ने कहा…

bhootnath ki atmkatha plz upload kijiye

raj1028 on 3/9/11 9:48 pm ने कहा…

bahut achchi site hai

Naveen ने कहा…

bahut bahut dhanyavaad.

manishmittal on 14/10/11 3:29 pm ने कहा…

bahut bahut badhayi bhootnath or chandrakanta ke liye. kripya chandrakanta santati ke bhi sabhi parts upload kare.

NISHANT KUMAR ने कहा…

AAP KI SAARI KAHANIYA BAHUT ACHHI HAI. AUR AAP ISI TARAH NAYI KAHANIYA UPLOAD KARTE RAHE.AAPKE YE KAAM SARAHNIYA HAI.

NISHANT KUMAR ने कहा…

SACH ME AAPKI KAHANIYA PADH KAR MAN SANTRIPT HO GAYA.

The Huge Crest on 9/11/11 6:28 pm ने कहा…

Mai kafi dino se Hindi me Chandrakanta Pdf me khoj raha tha....
Or apke shight par mili...
Thanks for your great work for Hindi Literature.
Rahul Kumar Kushwaha

kumarrahulkush@gmail.com

The Huge Crest on 9/11/11 6:30 pm ने कहा…

Keep Uploading Hindi.....
And one day your sight will be world biggest
hindi novel sight...
Again....Thanks for your great work

Nikunj Joshi on 17/12/11 3:17 pm ने कहा…

Such nice things for hindi and hindi writers. But Bhootnath has been removed by as the link shows. Now it is difficult to find Bhootnath in pdf format.

The Huge Crest on 21/12/11 11:28 pm ने कहा…

zip formate में तो है ही extract करने पर pdf से भी अच्छी दिखती है @nikunj joshi

yogesh on 20/1/12 7:18 pm ने कहा…

kya aap email id m bhaj sakte h.

yogesh on 21/1/12 12:47 pm ने कहा…

i want direct link to download files.

बेनामी ने कहा…

Aap ko direct link dena chaiye.

बेनामी ने कहा…

kya aap ne chandrakanta likns se remove kr di h?

बेनामी ने कहा…

any links for chandrakanta santati?

बेनामी ने कहा…

I'm not able to download the novel as all available sites say that the file has been removed.. Can anybody help?

बेनामी ने कहा…

dhanyawad

बेनामी ने कहा…

भाई लिंक अब वेलिड नहीं है कृपया फिर से अपलोड करे, मीडियाफायर जैसी साईट पर

बेनामी ने कहा…

http://bestthings4u.blogspot.in/2011/11/chandrakanta-novel-in-hindi.html

बेनामी ने कहा…

This is really innovative and highly a remarkable effort. I have seen many foreign sites which provide books in English for free. However, in India, its completely lacking. I am happy to learn that you are doing such a noble job. This will definitely oblige many readers, who wants to read books.

vrindabandham on 3/5/12 8:36 pm ने कहा…

न तो चंद्रकांता संतति है न भूतनाथ

vrindabandham on 7/5/12 2:41 pm ने कहा…

कृपया चंद्रकांता संतति के फ्री लिंक देने की कृपा करें , ये तो बाबू देवकीनंदन खत्री जी का ही है जिसके कॉपी राइट १०० वर्ष के नियमानुसार समाप्त हो गए होंगे

vrindabandham on 9/5/12 12:41 pm ने कहा…

कृपया चंद्रकांता संतति और रोहताश मठ के लिंक भी भेजने की कृपा करें
मैं आपका आभारी रहूँगा

vrindabandham on 12/5/12 12:27 pm ने कहा…

कृपया चंद्रकांता संतति और रोहताश मठ के लिंक भी भेजने की कृपा करें
मैं आपका आभारी रहूँगा meri ID dewoovbn@gmail.com

Khak on 16/5/12 5:08 pm ने कहा…

मैं देवकीनंदन जी के उपन्यास चंद्रकांता से बहुत प्रभावित हूँ और एडमिन से मेरा अनुरोध है के चंद्रकांता संतति के लिए डाउनलोड लिंक उपलब्ध करवाएं. मैं इस पुस्तक को कई वर्षों से पढना चाहता हूँ परन्तु अब तक पढ़ नहीं पाया. यदि आप मुझे इसकी एक पीडीऍफ़ प्रति उपलब्ध करवा सकें तो आपकी अति कृपा होगी. धन्यवाद्.

बेनामी ने कहा…

आप लहरी प्रेस के अनुरोध के कारण लाखों हिन्दी प्रेमियों को निराश कर रहे हैं। कृपया 'भूतनाथ' को उपल्बद्ध करवा दीजिए.....

बेनामी ने कहा…

आपको किताबों को इमेज के बदले टेक्स्ट रूप मे पीडीएफ़ अपलोड करना चाहिए । इससे उनका साइज कम होगा । इसके लिए चित्रांकन सॉफ्टवेयर से स्कैन किए पन्नो को टेक्स्ट रूप मे बदल सकते हैं । अगर आप ऐसा करते हैं तो आपकी बड़ी मेहरबानी होगी ।

Ratan singh on 12/8/12 3:22 pm ने कहा…

aapke es srahneeh kadam se karodo hindi bhasiyo ko vo pustke mil rhi hai jinka logo ne sirph nam hi suna tha magar prapt nhi kar paye. aapko koti koti dhanyavad, sadhuvad

RAJESH NIRMAL on 14/9/12 2:19 pm ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
RAJESH NIRMAL on 14/9/12 2:21 pm ने कहा…

आपके लिंक से चंद्रकांता को डाउन लोड नहीं कर पा रहा हूँ. बार बार बीच में ही डाउन लोड बंद हो जाता है.

dhiru_bhai-tiwari on 14/9/12 2:38 pm ने कहा…

chandrakanta santati ka link kaha par hai?

Mukesh Baid on 17/11/12 11:18 pm ने कहा…

Please share all the parts of Chandrakanta Santati. All the Hindi lovers missing this for years. Please someone help us, please !!!!!!!!!!!!

puspendra singh on 24/11/12 11:59 pm ने कहा…

bahut achha aapke kam ko dekhkar badi khusi milti h ham aapka kuch sahayog kar paye to badi khusi milegi puspendra principal.ms4@gmail.com

vijay on 22/1/13 11:06 pm ने कहा…

thnaks for this

harsh shah on 5/4/13 12:28 am ने कहा…

HEY I WANT TO READ CHANDRAKANTA............I DONT KNOW HOW 2 DOWNLOAD IT...........NONE OF THE LINK IS USEFUL FOR D.LOAD THIS BOOK.......

harsh shah on 5/4/13 12:30 am ने कहा…

pl somebdy send the link or book.............
on my account.........gmail....harsh.18061988@gmail.com

Admin on 8/4/13 7:35 am ने कहा…

All the Links are working fine.
if you dont know how to download, Please read the help for download here:
http://www.apnihindi.com/2010/01/blog-post_10.html

Ashwin Dave on 14/4/13 1:26 pm ने कहा…

I AM VERY GLADE TO DOWNLOAD CHANDRKANTA FROM YOUR SITE,SO I'M THANKSFUL FROM DAVE ASHWIN

Shashikant on 14/4/13 11:14 pm ने कहा…

My father purchased Chandrakanta santati and Bhotnath way back in 1964. I found it in 1978 read all including Rohatasmath multiple times. In 1984 I purchased all the books available with Lahari Book depot. Unfortunately in last few years they were attacked by termites and I am still mourning their loss. I was very happy to see them available on net. Please make Bhootnath and Rohatasmath also available. These novels has far more speed than C. S. How many have read Rakta Mandal which was the best of the series of 4. Anyway very glad to see hindi readers.
Shashikant
blossom36@rediffmail.com

Deepak Jha on 18/6/13 6:20 pm ने कहा…

Namaskar

Bhai Saab Kaisi site banai ki 1 v file download nahi hoti.

rahul kumar on 23/6/13 12:54 pm ने कहा…

Plz giveme password for chandrkanta my mail id rahulthakurji@gmail.com

के. सी. मईड़ा on 16/7/13 11:59 am ने कहा…

sir चंद्रकांता उपन्यास को मैंने download करने की बहुत कोशिश की पर download नहीं हो सका । कृपया लिंक update करें या फिर मुझे इसे kcmaida000@gmail.com पर मेल करने की कृपा करें । धन्यवाद....

sandeep lodhi on 10/9/13 2:07 pm ने कहा…

Bhai chsndrkanta ab kisi link par uplabdh nahi hai kirpya inhe update kare ya dusri link daale ya email kare
sandeeplodhi56@gmail.com

MRIGANK AGRAWAL on 17/9/13 7:06 pm ने कहा…

Thanks,Thanks and a BIG Thanks.

Naresh Desai on 26/9/13 6:07 pm ने कहा…

agar kisiko chandrakanta download karneme problem hai to ap mera contact kare! welcome!!
mail id;-naresneha@gmail.com

aal d best

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिप्पणियां हमारी अमूल्य धरोहर है। कृपया अपनी टिप्पणियां देकर हमें कृतार्थ करें ।

Blogger Tips And Tricks|Latest Tips For Bloggers Free Backlinks

Deals of the Day

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में

 

ताजा पोस्ट:

लेबल

कहानी उपन्यास कविता धार्मिक इतिहास प्रेमचंद जीवनी विज्ञान सेहत हास्य-व्यंग्य शरत चन्द्र तिलिस्म बाल-साहित्य ज्योतिष मोपांसा देवकीनंदन खत्री पुराण बंकिम चन्द्र वीडियो हरिवंश राय बच्चन अनुवाद देशभक्ति प्रेरक यात्रा-वृतांत दिनकर यशपाल विवेकानंद ओ. हेनरी कहावतें धरमवीर भारती नन्दलाल भारती ओशो किशोरीलाल गोस्वामी कुमार विश्वास जयशंकर प्रसाद महादेवी वर्मा संस्मरण अमृता प्रीतम जवाहरलाल नेहरु पी.एन. ओक रहीम रांगेय राघव वृन्दावनलाल वर्मा हरिशंकर परसाई ग़ालिब अज्ञेय इलाचंद्र जोशी कृशन चंदर गुरुदत्त चतुरसेन जैन भारतेन्दु हरिश्चन्द्र मन्नू भंडारी मोहन राकेश रबिन्द्रनाथ टैगोर राही मासूम रजा राहुल सांकृत्यायन शरद जोशी सुमित्रानंदन पन्त असग़र वजाहत उपेन्द्र नाथ अश्क कालिदास खलील जिब्रान चन्द्रधर शर्मा गुलेरी तसलीमा नसरीन फणीश्वर नाथ रेणु

ताजा टिप्पणियां:

अपनी हिंदी - Free Hindi Books | Novel | Hindi Kahani | PDF | Stories | Ebooks | Literature Copyright © 2009-10. A Premium Source for Free Hindi Books

;