वह स्थान मंदिर है, जहाँ पुस्तकों के रूप में मूक, किन्तु ज्ञान की चेतनायुक्त देवता निवास करते हैं। - आचार्य श्रीराम शर्मा
कृपया दायीं तरफ दिए गए 'हमारे प्रशंसक' लिंक पर क्लिक करके 'अपनी हिंदी' के सदस्य बनें और हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार में अपना योगदान दें। सदस्यता निशुल्क है।
Flipkart.com

मंगलवार, 28 अप्रैल 2009

नियमित पाठक

यह स्तम्भ हमने अपने नियमित पाठकों के लिए शुरू किया है। इसमें हम अपने नियमित पाठकों के बारे में लिखेंगे ।
अगर आप भी हमारे नियमित पाठक है तो आप अपनी फोटो और अपना जीवन-परिचय हमें भेज सकते है। इसे हम 'अपनी हिंदी' पर प्रकाशित करेंगे। यानी 'अपनी हिंदी' का एक पूरा पृष्ठ आपके नाम पर होगा।

कृपया ध्यान दे, आप अपने बारे में निमंलिखित जानकारी हमें भेज सकते है:
(ये केवल एक उदहारण है। आप और भी अधिक जानकारी हमें भेज सकते है। जानकारी भेजने के लिए आप हिंदी या अंग्रेजी का प्रयोग कर सकते है। लेकिन जानकारी का प्रकाशन हिंदी भाषा में ही किया जाएगा। अपना विवरण हमारे ईमेल पते पर ही भेजें। )

आपकी तस्वीर
जन्म
बचपन
शिक्षा-दीक्षा
व्यवसाय
वर्तमान में क्या करते है
भविष्य में क्या करना चाहते है
'अपनी हिंदी' के बारे में आपका विचार
इत्यादि


नोट: अपनी जानकारी हमारे ईमेल पते ( apnihindi [at] gmail.com ) पर ही भेजें

at के स्थान पर @ लगायें।

धन्यवाद् ।


- प्रबंधक ।

47 टिप्पणियां:

Gaurav on 30/8/10 2:36 pm ने कहा…

mahoday kripya kuchh aayurvedic jankari bhi di jaise ki Aleo Vera aadi ke sambhand mei

neo_00 on 30/8/10 9:36 pm ने कहा…

Apki HIndi ke karya me hum aapke sath hai..

Admin on 31/8/10 9:20 am ने कहा…

कृपया फरमायश करने के लिए ऊपर दिए गए 'आपकी फरमायश' लिंक का प्रयोग करें।

'अपनी हिंदी' में बहुत सी आयुर्वेदिक पुस्तकें उपलब्ध है। कृपया ऊपर दिए गए लिंक 'वर्गानुसार पढ़ें' में जाकर 'सेहत/चिकित्सा' वर्ग देखें।

धन्यवाद्।

ashok on 31/8/10 5:26 pm ने कहा…

Dharmaveer Bharati ki Suraj ka satva ghoda

Arvind Kumar Sharma on 19/9/10 7:31 pm ने कहा…

आपका कार्य अमूल्य है. हिन्दी साहित्य को आम जनता तक पहुचाने में आपका प्रयास अतुल्य है . मै आपका पुराना पाठक हूँ तथा नियमित तौर पर आपसे जुड़ा हुआ हूँ नई किताबों का बेसब्री से इंतज़ार रहता है. आपको बहुत बहुत धन्यवाद.

dr b k locanda on 6/10/10 10:10 pm ने कहा…

please upload books on vedanta

बेनामी ने कहा…

आपको मेरा नमस्कार........आप जो राष्ट्रभाषा हिंदी ki जो सेवा कर रहे हे वो अतुलनीय है......आपसे मेरा नम्र निवेदन है ki इस शृंखला को इस तरह से जारी रखे.......

कविता रावत on 10/11/10 1:12 pm ने कहा…

Rashtrabhasha Hindi ke prachar-prasar ke liye aapka yah kaarya sarhaniya hi nahi apitu anukarniya bhi hai....
Hindi ke Saarthak prayas ke liye dhanyavaad

Anup Tripathi on 14/1/11 2:58 pm ने कहा…

चाणक्य सूत्र देकर आपने आज के युवाओ को अच्छी सीख देने का प्रयास किया है, आप निः संदेह बधाई के पात्र हैं. भारतीय ज्ञानपीठ की पुस्तके भी उपलब्ध करवाएं. - अनूप त्रिपाठी (anupayush@gmail.com)

Ajay on 17/2/11 1:06 am ने कहा…

thank you very much for this amazing site.
please bhoonath novel ko upload kariyega

बेनामी ने कहा…

आप का ये प्रयास तारीफ़ ऐ काबिल है. ये प्रयास युवा लोगो को हिंदी के प्रति प्रेम सिखला रहा है.

raj on 7/8/11 6:51 pm ने कहा…

हम जब कोई पन्ना अपनी हिंदी पर खोलते है तो उसके लिंक आयताकार श्रंखला के रूप में दिखाई देती है ऐसा क्यूँ है कृपया मदद करें

Admin on 7/8/11 8:01 pm ने कहा…

to Raj:
कृपया किसी अन्य में Browser में वेबसाइट खोलकर देखें.

Govind Dixit ने कहा…

raashtra bhaasha ke prachaar prasaar ke iss puneet kaarya mein hamari shubh kaamnaayen sadaiv aapke saath rahengi.

बेनामी ने कहा…

अपनी हिंदी बहुत अच्छी sites हैं. दोस्त ऐसी और koi sites हो तो बताने की कृपा करें. धन्यवाद

Ashish Agnihotri ने कहा…

महोदय, मैं आपके द्वारा किये जा रहे प्रयासों का भारी समर्थक हूँ और आपके इस पुनीत यज्ञ में सहयोग देने के लिए मैंने आपकी साईट " अपनी हिंदी " का लिंक मेरे फेसबुक अकाउंट पर डाल दिया है..... हिंदी के लिए की जा रही आपकी सेवाओं के लिए पुनः आपका बहुत बहुत आभार ....

Admin on 19/9/11 8:46 pm ने कहा…

आप सभी का धन्यवाद्!

kalpesh ने कहा…

हम इस आईडिया स काफी प्रभावित हुए हें

सुभाष शर्मा ने कहा…

वाह ! मजा आ गया इस साइट को देखकर

Amit Mudgal ने कहा…

कृपया पदम् भूषण अलंकृत डॉ श्रीमती दिनेशनंदिनी डालमिया की कृतियों को भी संकलित करे. इनके कार्य की प्रशंसा प्रसिद्ध सुभद्रा कुमारी चौहान और महादेवी वर्मा ने की . इन्होने ने १३ वर्ष की उम्र में लिखना आरम्भ कर दिया था . अमित मुद्गल

Arun Sharma on 28/11/11 3:12 pm ने कहा…

bahut hi achhi site h apni hindi.

Sunil Kumar on 29/11/11 7:51 am ने कहा…

Aap ki site bhout good ha

shivansh mishra ने कहा…

plz upload books of sri ramchandra shukla

बेनामी ने कहा…

is link par jyotish se sambandit aachi book hai krpya aap yaha se lekar apne blog par post kare.


http://www.scribd.com/doc/16546591/Rare-book-of-astrology-in-Hindi

harvinder ने कहा…

kaya aap brahmin mimasa ko upload kar saktay hai apki ati karpya hogi dhanyavaad

mukesh on 21/12/11 3:31 pm ने कहा…

please chankya aur chandragupta mourya ka etihaas bhi uplode kare

hindi upanyas on 19/1/12 12:51 pm ने कहा…

Kya aap Kabir Das ke sabhi dohe de sakate ho to mahan daya hogi.

Piush Trivedi on 25/1/12 5:21 pm ने कहा…

Nice Blog Please Visit:- hindi4tech.blogspot.com

hindi upanyas on 27/1/12 1:09 pm ने कहा…

Kya AP kabir DAS KE SABHA DOHE MERI mail Id-pradip.16nov@gmail.com par bhej sakate hai agar aap ne aasa kiya to bahut DBANYAWAD .

बेनामी ने कहा…

jansanchar par koi pustak ho to kripya upload karein...

hasan ali mirza on 20/5/12 8:32 am ने कहा…

sir ji ,,aadab

apni hindi qabil-e- tareef hai bacchon ke liye wo milgaya jo kitaboon se nahin dhoondh paye aap ki site ne bahut madad di ,,,shukriya

Trilok Bhatia on 20/5/12 1:01 pm ने कहा…

aap ki kosis tarif ke kabil hai. muje aapni hindi website bahut hi pasand aai hai.

वैभव शर्मा ने कहा…

आपका बहुत बहुत धन्यवाद

m s shekhawat ने कहा…

सर्व प्रथम प्रकाशक बंधू को ढेर सारा सादुवाद ...सच कहूँ तो मुझे सपने मै भी उमीद नहीं थी की हिंदी मै इन्टरनेट पर इतना अच्छी पढने योग्य सामग्री मिल जाएगी .बहुत बहुत धन्यवाद आपके भागीरथी प्रयास को ........महोदय एक किताब है माय फ्रोजेन तुर्बुलांस इन कश्मीर श्री जगमोहन दवरा लिखित ,,,,,,अगर मिल जाये तो बेहतर होगा ........

Ashutosh jha on 23/9/12 11:30 pm ने कहा…

ashutosh jha
DOB: 5-03-1984
B.Com (Account hons.)
Patna University
unemployed

भोलेश्वर वशिष्ठ on 27/9/12 9:34 am ने कहा…

स्व.मैथिलीशरण गुप्त जी और उनकी रचना का अभाव नजर आया ।

bittu banarasi on 19/10/12 11:55 am ने कहा…

मैंने आज पहली बार अचानक से ही यह वेबसाइट ओपन करदी पर मुझे अपर हर्ष और प्रसन्नता हो रही है आप सभी का बहोत बहोत धन्यवाद् की आप सब इतनी बड़ी संख्या में हिंदी से जुड़े हैं .और मै अन्नी हिंदी की पूरी टीम को बधाई देना चाहूँगा निशित रूप से आपका और हमारा यह प्रयास हमें हमारी राष्ट्र भाषा की समृद्ध करने में महत्वपूर्ण सिद्ध होगा. मेरी शुभ कामनाए सभी हिन्दीभाषियो व पूरे भारतवासिओ के साथ हैं -जय हिंदी जय भारत - आपका नवनीत त्रिपाठी

punam on 27/10/12 3:04 pm ने कहा…

mai ek hindi teacher and writer hun,bahut dino se ek aise site ki khoj me thi jahan humarey great writers ki rachnayen miley...dhanyabaad..shayad meri khoj puri hui..

punam on 27/10/12 3:13 pm ने कहा…

mai ek hindi teacher and writer hun,bahut dino se ek aise site ki khoj me thi jahan humarey great writers ki rachnayen miley...dhanyabaad..shayad meri khoj puri hui..

Rakesh shukla on 29/11/12 6:22 am ने कहा…

मै अपनी हिंदी की पूरी टीम को बधाई देना चाहूँगा , निशित रूप से आपका और हमारा यह प्रयास हमारी राष्ट्र भाषा को समृद्ध करने में महत्वपूर्ण सिद्ध होगा. मेरी शुभ कामनाए सभी हिन्दीभाषियो व पूरे भारतवासिओ के साथ हैं .

धन्यवाद,
राकेश शुक्ला

Shankar Gupta on 1/3/13 12:11 pm ने कहा…

Sach much atulniya aananad mila.... pahli kahani Ravindranath Tagore ki padh raha hun, AANKH KI KIRKIRI.....
Aap ka hindi website hamare jaise anekon bhartiyon ke liye vardan hai.

ANEKO SADHUWAD KE SAATH,
AAPKA
Shankar gupta

Amit Zende on 8/7/13 5:21 pm ने कहा…

मै अपनी हिंदी की पूरी टीम को बधाई देना चाहूँगा , निशित रूप से आपका और हमारा यह प्रयास हमारी राष्ट्र भाषा को समृद्ध करने में महत्वपूर्ण सिद्ध होगा. मेरी शुभ कामनाए सभी हिन्दीभाषियो व पूरे भारतवासिओ के साथ हैं .

धन्यवाद,
Avinash Zende

liladhar gade on 13/8/13 10:27 pm ने कहा…

Namaskar...
Aap jo koi bhi hai,
Aaj tak maine kabi ye novels aur kitabein ya books...kabhi koi interest nahi diya,not even for single microsecond.
but jab me apne des se durr hua hu, jab apas me hindi bolne wala koi nahi hai, tab try reading single novel for time pass that was ANANDMATT by Bankim chandra.Oske baad se latt lag gayi.2weeks me 6 novel padd chuka hu.
Koti Koti Dhanyavaad, to get me addicated n finding best friend in terms of these novels.

Manish M on 8/4/15 10:27 pm ने कहा…

शायद मुझे आपकी ये वेबसाइट बहुत बाद मे मिली, बहुत ही सुंदर प्रयास है हिन्दी को जीवंत रखने का. लेकिन आपकी वेबसाइट मे दिए गये बहुत सारे डाउनलोड लिंक अब काम नही करते... क्या आप लोगो ने वेबसाइट को मेनटेन करना बंद कर दिया है???

Radhika Awasthi on 26/6/15 1:27 am ने कहा…

श्रीमान जी,
लगभग एक साल से कोई भी पुस्तक प्रकाशित नहीं की गई है. क्या आपने इस साइट को देखना बिलकुल ही बंद कर दिया है. क्यूंकि अगर कोई पाठक कुछ फरमाइश करता भी है तो उसका कोई उत्तर भी नहीं आता और उसकी फरमाइश पूरी भी नहीं की जाती. एक साल पहले आपने एक पुस्तक अवश्य आई थी, किन्तु वो भी शायद बहुत अच्छी नहीं थी. बहुत अच्छी पुस्तकों का आना तो काफी समय से रुका हुआ है. इस प्रकार कैसे आप हिंदी का प्रचार कर पाएंगे, मुझे समझ में नहीं आता. मुझे मेरी एक सहेली ने बताया कि उसने काफी समय पहले आपकी दी गई मेल आईडी पर हैरी पॉटर की कुछ पुस्तकें भेजी थीं, किन्तु न ही उनका कोई उत्तर आया न ही कोई भी पुस्तक प्रकाशित की गई. जो हैरी पॉटर के लिंक्स आपने दे रखे हैं कोई काम नहीं कर रहा. इसके अलावा और भी ज़्यादातर लिंक्स काम नहीं कर रहे. कृपया पुराने लिंक्स को या तो हटाइये या उन्हें सुधारिये और सुधारना मुमकिन न हो पाये तो नए लिंक्स उपलब्ध करवाने का कष्ट करें. कृपया मेरी बात का पूर्ण रूप से ध्यान रखें और इस विषय में कुछ करें.

Dr G.P. on 1/11/15 12:10 pm ने कहा…

श्रीमान जी,
लगभग एक साल से कोई भी पुस्तक प्रकाशित नहीं की गई है. क्या आपने इस साइट को देखना बिलकुल ही बंद कर दिया है. क्यूंकि अगर कोई पाठक कुछ फरमाइश करता भी है तो उसका कोई उत्तर भी नहीं आता और उसकी फरमाइश पूरी भी नहीं की जाती. एक साल पहले आपने एक पुस्तक अवश्य आई थी, किन्तु वो भी शायद बहुत अच्छी नहीं थी. बहुत अच्छी पुस्तकों का आना तो काफी समय से रुका हुआ है. इस प्रकार कैसे आप हिंदी का प्रचार कर पाएंगे, मुझे समझ में नहीं आता. मुझे मेरी एक सहेली ने बताया कि उसने काफी समय पहले आपकी दी गई मेल आईडी पर हैरी पॉटर की कुछ पुस्तकें भेजी थीं, किन्तु न ही उनका कोई उत्तर आया न ही कोई भी पुस्तक प्रकाशित की गई. जो हैरी पॉटर के लिंक्स आपने दे रखे हैं कोई काम नहीं कर रहा. इसके अलावा और भी ज़्यादातर लिंक्स काम नहीं कर रहे. कृपया पुराने लिंक्स को या तो हटाइये या उन्हें सुधारिये और सुधारना मुमकिन न हो पाये तो नए लिंक्स उपलब्ध करवाने का कष्ट करें. कृपया मेरी बात का पूर्ण रूप से ध्यान रखें और इस विषय में कुछ करें. आपकी वेबसाइट मे दिए गये बहुत सारे डाउनलोड लिंक अब काम नही करते... क्या आप लोगो ने वेबसाइट को मेनटेन करना बंद कर दिया है???
हम भी राधिका जी एवं मनीष जी की बात से पूरी तरह सहमत है .हिन्दी प्रेमी पाठक वर्ग आपकी अकर्मण्यता से दुखी है .कृपया बदलाव लाये .प्रतिच्छा में हम सभी पाठक वर्ग . डॉ गोविन्द पाण्डेय , सोनभद्र , उत्तर प्रदेश


priya pandey on 16/3/16 8:54 pm ने कहा…

App mujhe nirmal varma se sambdhit books de skte h.kya se sir

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिप्पणियां हमारी अमूल्य धरोहर है। कृपया अपनी टिप्पणियां देकर हमें कृतार्थ करें ।

Blogger Tips And Tricks|Latest Tips For Bloggers Free Backlinks

Deals of the Day

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में

 

ताजा पोस्ट:

लेबल

कहानी उपन्यास कविता धार्मिक इतिहास प्रेमचंद जीवनी विज्ञान सेहत हास्य-व्यंग्य शरत चन्द्र तिलिस्म बाल-साहित्य ज्योतिष मोपांसा देवकीनंदन खत्री पुराण बंकिम चन्द्र वीडियो हरिवंश राय बच्चन अनुवाद देशभक्ति प्रेरक यात्रा-वृतांत दिनकर यशपाल विवेकानंद ओ. हेनरी कहावतें धरमवीर भारती नन्दलाल भारती ओशो किशोरीलाल गोस्वामी कुमार विश्वास जयशंकर प्रसाद महादेवी वर्मा संस्मरण अमृता प्रीतम जवाहरलाल नेहरु पी.एन. ओक रहीम रांगेय राघव वृन्दावनलाल वर्मा हरिशंकर परसाई अज्ञेय इलाचंद्र जोशी कृशन चंदर गुरुदत्त चतुरसेन जैन भारतेन्दु हरिश्चन्द्र मन्नू भंडारी मोहन राकेश रबिन्द्रनाथ टैगोर राही मासूम रजा राहुल सांकृत्यायन शरद जोशी सुमित्रानंदन पन्त असग़र वजाहत उपेन्द्र नाथ अश्क कालिदास खलील जिब्रान चन्द्रधर शर्मा गुलेरी तसलीमा नसरीन फणीश्वर नाथ रेणु

ताजा टिप्पणियां:

अपनी हिंदी - Free Hindi Books | Novel | Hindi Kahani | PDF | Stories | Ebooks | Literature Copyright © 2009-10. A Premium Source for Free Hindi Books

;